lolita, translated

याद नहीं तुम्हें मैंने कहाँ
सबसे पहले देखा था।
मुमकिन है उस गली में
एक अकेली दोपहर को, जब एक परिंदा
मेरे बाएं कान के बहुत करीब से गुज़रा था।
या सिर्फ सुना था तुम्हारे गीले मोज़ों के बारे में
जो किसी और के गंदे जूतों में
सड़ रहे थे बैंगनी फ़ूलों की तरह।

बात बहुत पुरानी हो चली है।

याद है लेकिन कैसे पहली बार तुम
मेरे ज़ेहन में उभरे थे, मानो एक बच्चा
किसी बीमार माँ की कोख़ में हो।
तुमने मेरा नाम पूछा और मैंने इशारा किया
खेत में गढ़े हव्वे कि तरफ़।
कहकहे के साथ तुम उसके पास जा खड़े हुए
एक बेबाक बन्दर के जैसे।
अचानक सूरज फ़ीका पड़ गया।
मैंने हर उस रंग की धुन तुम्हें सुनाई
जिसका कोई नाम नहीं होता।
और शायद मनमर्ज़ी से नाम बनाये
जो तुम्हारे जादू ने
मुझे भुला दिए, हमेशा के लिए।
हमने कितने ही करतब खेले
उन पुरानी किताबों के पन्नों से
जिनसे दुनिया कतराती है।
लेकिन हमारा ख़ून मुलायम था
और आँखें नरम, जो एक दूसरे को
अपने ही सैलाब में थाम लेती थीं.
जब तुमने मुझसे पूछा, क्या गलत है, खुद को
शीशे में नंगा होकर देखना
जैसे किसी और को दिखता हो।
मैंने हामी भर दी क्योंकि मुझे नहीं बर्दाश्त
के तुम्हारी छाया भी हमारे बीच आये।

अपनी ही क़ब्र में ज़िंदा रहने के जैसा था
तुमसे प्यार करना।

 

Lolita

 

I don’t remember when I saw

You the first time.

It was possibly that street

In a lonely afternoon when a bird

Flew very close past my left ear.

Or perhaps I had only read of your wet socks

Getting rotten like violet flowers in the dirty

Shoes of someone’s prose.

 

It’s too far back to recollect.

 

But I remember how you had first

Stirred inside my head like a child

In a sick mother’s womb.

You asked my name and I pointed

To the scarecrow in the field.

You laughed and posed alongside it

Like an audacious monkey.

The sun grew suddenly dark.

I fed you the tunes of all

Those colours without names.

Or maybe I invented the names

Which you skillfully made us

Forget and do not remember again.

We played those games from

Very old books which the saints

Would blush to try.

But our blood was tender and

Eyes warm as we sheltered each

Other inside our own storm.

Once you asked me if it was wrong to

Stand naked before the mirror and

See yourself as another.

I said yes because I couldn’t stand

Your shadow between us.

 

To love you was like staying alive

Inside my grave.

Leave a Reply